May 24, 2024

घर में बेलपत्र लगाने का है विशेष महत्त्व, सकारात्मक ऊर्जा का होता है वास

नई दिल्ली: घर में बेलपत्र लगाने का विशेष महत्त्व है, इससे महादेव की कृपा आपके और आपके परिवार के ऊपर सदैव रहती है, उनके जीवन में कभी कोई परेशानी नहीं आती है.पौराणिक कथा के अनुसार जिस जगह बेलपत्र लगाया जाए, वह तीर्थ स्थान बन जाता है,क्योंकि बेलपत्र में साक्षात भगवान शिव का वास होता है.बेलपत्र के पत्ते हमेशा ताजे रहते हैं. तो आइए हम आपको अपने इस लेख में बताएंगे कि बेलपत्र का महत्त्व क्या है, घर में कहां लगाएं कि आपकी सारी समस्याएं कम हो जाएं.

क्या है बेलपत्र का महत्त्व
पौराणिक कथा में मान्यता है कि बेलपत्र भगवान शिव को अर्पित करने से एक करोड़ कन्यादान के बराबर फल की प्राप्ति होती है. भगवान शिव और हनुमान बेहद प्रसन्न होते हैं, सभी पापों से मुक्ति मिल जाती है.

दरिद्रता दूर करें
अगर आपके घर दरिद्रता का वास हो रहा है, तो जल्द बेलपत्र का पौधा लगाएं, इससे मां लक्ष्मी बेहद प्रसन्न होती है, सारे दुख कम हो जाते हैं. सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है.

सकारात्मक ऊर्जा का होता है वास
मान्यता है कि बेलपत्र के जड़ में माता गिरिराज वास करती हैं,वहीं घर की उत्तर-पश्चिम दिशा में बेल का पौधा लगाया जाए तो घर में सकारात्मक ऊर्जा का वास होता है.

जादू-टोना का नहीं पड़ता है प्रभाव
बेलपत्र अगर घर के मुख्य आंगन में लगा है, तो इससे नकारात्मक ऊर्जा घर में कभी प्रवेश नहीं करती है.

चंद्र दोष का नहीं पड़ता है दुष्प्रभाव

बेलपत्र का पौधा लगाने से चंद्र दोष से मुक्ति मिलती है और घर में सदैव खुशहाली का आगमन होता है.

About Author

Please share us