March 5, 2024

मसूरी में वाहनों के आने पर नहीं है प्रतिबंध, सोशल मीडिया पर किया जा रहा भ्रामक प्रचार: MHA

मसूरी। मसूरी होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय अग्रवाल ने कहा है कि सोशल मीडिया व यूटयूब पर मसूरी में वाहनों पर प्रतिबंध के बारे में जानकारी दी जा रही है, जो कि गलत है। इससे भ्रम की स्थित पैदा हो रही है। उन्होंने साफ किया कि मसूरी में बाहरी वाहनों व पर्यटकों के आने पर कोई प्रतिबंध नहीं है।

कुलड़ी स्थित एक रेस्टोरेंट में आयोजित पत्रकार वार्ता में होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय अग्रवाल ने कहा कि मसूरी आने पर किसी भी बाहरी वाहन पर प्रतिबंध नहीं है बल्कि मालरोड पर पूर्व की भांति केवल शाम के समय शाम पांच बजे से रात्रि नौ बजे तक चार घंटे का ही प्रतिबंध लगाया गया है ताकि पर्यटक मालरोड पर पैदल चलकर आनंद ले सके। लेकिन कुछ सोशल मीडिया व यूटयूबर द्वारा भ्रामक प्रचार किया जा रहा है जिससे मसूरी घूमने आने वाले पर्यटकों के सामने असमंजस की स्थिति बनी हुई है। जिन पर्यटकों ने बुकिंग करा रखी है उनके फोन आ रहे है व बुकिंग कैसिल करने की बात कह रहे हैं। इस पर उन्हें समझाया गया कि ऐसा कोई प्रतिबंध नहीं है। केवल शाम को चार घंटे मालरोड पर वाहनों के जाने पर प्रतिबंध पर्यटकों की सुविधा के लिए ही किया गया है।

वहीं उत्तराखंड होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष संदीप साहनी ने कहा कि पूरा शीतकाल बिना बारिश व बर्फबारी के चला गया जो कि चिंता का विषय है अगर ऐसा ही रहा तो यह गंभीर समस्या बन जायेगी। उन्होंने कहा कि पहाड़ों पर इन दिनों बारिश व बर्फबारी होती थी व उत्तराखंड के ऐसे पर्यटक स्थलों जिसमें औली, चौपता, बागेश्वर आदि है जहां केवल इन्ही दिनों पर्यटन सीजन चलता है लेकिन बर्फ न पड़ने के कारण उनका व्यवसाय बुरी तरह प्रभावित हो गया है। वहीं इसका प्रभाव मसूरी व नैनीताल पर भी पड़ रहा है। वहीं अगर शीघ्र बर्फ या बारिश नहीं होती तो इसका प्रभाव आने वाले सीजन पर पडेगा व पानी की समस्या का भी सामना करना पडेगा। वहीं बारिश व बर्फबारी न होने से सेब सहित मौसमी फसल पर भी प्रभावित होगी। इस मौके पर शैलेंद्र कर्णवाल व राजकुमार आदि मौजूद रहे। 

About Author

Please share us

Today’s Breaking