May 19, 2024

मसूरी खेल एंव सांस्कृतिक समिति ने खेल प्रशिक्षक सैमुअल चंद्रा को किया सम्मानित

मसूरी। मसूरी खेल एवं सांस्कृतिक समिति ने समिति के महासचिव सेमुअल चंद्रा को विश्व कप मास्टर्स फुटबाल प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व करने व अंर्तराष्ट्रीय ब्लाइंड फुटबाल रैफरी बनाये जाने पर स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इस मौके पर वक्ताओं ने कहा कि सेमुअल चंद्र ने मसूरी, उत्तराखंड व भारत का गौरव बढाया है।

कुलडी स्थित एक रेस्टोरेंट के सभागार में आयोजित सम्मान समारोह में पूर्व विधायक व उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष व मसूरी खेल एंव सांस्कृतिक समिति के अध्यक्ष ने सेमुअल चंद्र को उनकी इस गौरवमयी उपलब्धि पर स्मृति चिन्ह, व माल्यार्पण कर स्वागत किया गया। इस मौके पर कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष व पूर्व विधायक जोत सिंह गुनसोला ने कहा कि सेमुअल चंद्र ने जो उपलब्धि हासिल की उससे उनके विद्यालय सेंटलारेंस, मसूरी, उत्तराखंड व देश का नाम रौशन किया जो मसूरी के लिए बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने मास्टरर्स फुटबाल के विश्व कप में भारत की टीम में जगह बनाई जिससे मसूरी गौरवान्वित हुआ है। उन्होंने मसूरी में खेल मैदान के लिए सभी से संघर्ष करने का आहवान किया उन्होंने बताया कि उन्होंने प्रदेश के कबीना मंत्री व मसूरी के विधायक से इस संबंध में वार्ता की लेकिन उन्हें 12 साल हो गये लेकिन खेल मैदान का मामला आगे नहीं बढ पाया।

इस मौके पर सेमुअल चंद्र ने कहा कि मसूरी खेल एंव सांस्कृतिक समिति ने जो सम्मान दिया है उसके लिए वे आभारी हैं। उन्होंने कहा कि इससे प्रेरणा मिलती है व आगे बढने का जज्बा मिलता है। उन्होंने कहा कि वे इसका लाभ मसूरी के बच्चों को व अपने विद्यालय के बच्चों को देना चाहेंगे कि वह भी आगे बढे। उन्होंने कहा कि वे शीघ्र मास्टर्स डिपाटमेंटल एथलेटिक्स मीट में प्रतिभाग करेंगे व शीघ्र इंटरनेशनल लेवल की ब्लाइंड फुटबाल में विदेश जा सकें। वहीं मसूरी के कई बच्चों को ब्लाइंड फुटबाल के रैफरी के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि विदेश में खेलों को प्रमोट किया जाता है जबकि हमारे यहां खेलों को महत्व नहीं दिया जाता। हाल ही में विंटर लाइन कार्निवाल हुआ उसमें खेलो को महत्व नहीं दिया गया। उन्होंने यह भी कहा कि वे देश के विभिन्न हिस्सों में प्रतिभाग करने जाते है व सभी जगह खेल के मैदान होते है लेकिन दुर्भाग्य से मसूरी में खेल का मैदान नहीं है इसका सभी को मिलकर प्रयास करना चाहिए। अगर खेल मैदान शीघ्र नहीं हुआ तो मसूरी के बच्चे मोबाइल व नशे से बर्बाद हो जायेंगे।

इस अवसर पर पूर्व पालिकाध्यक्ष ओपी उनियाल ने कहा कि सेमुअल चंद्र ने मसूरी ही नहीं प्रदेश व देश में भारत का नाम रौशन किया है उनकी इस उपलब्धि से आने वाले खिलाडियों को प्रेरणा लेनी चाहिए।

इस मौके पर मसूरी स्पोर्टस एसोसिएशन के अध्यक्ष सूरत सिंह रावत ने कहा कि यह मसूरी के लिए गर्व की बात है कि मसूरी जैसे छोटे शहर से उन्होंने खेलों को आगे बढाने के साथ ही अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विश्व मास्र्टस फुटबाल खिलाड़ी चयनित हुए। कार्यक्रम को शहर कांग्रेस अध्यक्ष अमित गुप्ता, भगवती प्रसाद कुकरेती, आदि ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन करते हुए परविंद रावत ने सेमुअल चंद्र की उपलब्ध्यिों पर विस्तार से प्रकाश डाला। अंत में समिति के अध्यक्ष सुरेंद्र राणा ने सेमुअल चंद्र को उनकी उपलब्धि पर बधाई दी व कहा कि उन्होंने समिति का नाम रौशन किया है उन पर समिति को गर्व है। 

इस मौके पर सुरेश गोयल, राजीव अग्रवाल, सुनील पंवार, अरविंद सोनकर, अमित कैंतुरा, महिमानंद, राजेश सक्सेना, तहमीना खान, डा. सुनीता राणा आदि मौजूद रहे।

About Author

Please share us

Today’s Breaking