May 19, 2024

मसूरी मॉल रोड सुधारीकरण कार्य में लगातार हो रही बारिश ने डाली खलल, हर तरफ तालाब आ रहे नजर, पैदल चलना हुआ मुश्किल

मसूरी। माल रोड सुधारीकरण कार्य रफ्तार पकड़ता इस बीच लगातार हो रही बारिश के कारण मॉल रोड पर जहां भी नजर दौड़ाई जाए हर तरफ तलाब ही तालाब नजर आ रहे हैं। जिस कारण स्थानीय नागरिकों के साथ ही पर्यटकों का पैदल चलना भी दुभर हो गया है। मालरोड की यह दुदर्शा देख पर्यटक भी खुद को ठगा सा महसूस कर रहे हैं।

दरअसल मॉल रोड सुधारीकरण के साथ ही सीवर लाइन व यमुना मसूरी पेयजल योजना की लाइन के लिए पूरी मॉल रोड खुदी पड़ी है। जिसे पर्यटन सीजन से पहले पूरा करने को लेकर प्रशासन के साथ ही संबंधित विभागों के हाथ पैर पहले ही फूले हुए थे कि इस बीच बारिश ने भी खलल डाल सबकी परेशानी को बढ़ा दिया है। मॉल रोड पर जहां तक भी नजर जा रही है हर तरफ तालाब ही तालाब नजर आ रहे हैं। कहीं पैर रखने तक को जगह नहीं बची है। सड़क खुदी होने के कारण न कोई वाहन से आवाजाही कर सकता है और ना ही इस हाल में पैदल आ जा सकता है। यहां आए पर्यटक भी मॉल रोड का यह हाल देख हैरान परेशान है। हालांकि स्थानीय प्रशासन मॉल रोड सुधारीकरण कार्य तेजी लाने को लेकर गंभीर है, मगर विभागीय सामंजस्य नहीं होने के कारण कार्य में तेजी नही आई। उपजिलाधिकारी लगातार इसे मॉनिटर कर रहे हैं और उन्होंने संबंधित विभागो को कार्य में तेजी लाने को सख्त निर्देश भी दिए हैं। लेकिन इस बीच बारिश ने सभी की मुसीबत बढ़ा दी।

हालत ये हैं कि जो लोग मालरोड पर पैदल आवाजाही कर रहे हैं वे कीचड़ से सन रहे हैं व कपड़े भी खराब हो रहे हैं। यही नहीं व्यापारियों को भी इसका खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। जो पर्यटक दुकानों में सामान खरीदने जा रहे है उनके पैरो से कीचड़ दुकानों में आ रहा है। बारिश से पहले दुकानदार धूल से परेशान थे व अब कीचड़ से परेशान हैं। इधर सीजन नजदीक है लेकिन बारिश की वजह से कार्य बाधित होने पर समय भी बर्बाद हो रहा है। यही हाल रहा तो पर्यटन पर भी बुरा प्रभाव पड़ेगा। क्योंकि मसूरी आने वाले पर्यटक यहां से मसूरी की बुरी छवि लेकर जा रहे हैं। आज हाल यह हो गया कि मॉल रोड पर जिसकी भी रोजी रोटी निर्भर है वह बेरोजगार हो गए।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस ने राहुल गांधी के खिलाफ केंद्र सरकार व दिल्ली पुलिस द्वारा की जा रही द्वेषपूर्ण कार्यवाही के विरोध में किया प्रदर्शन, पुतला दहन किया

मालरोड पर पटरी लगाने वाले व रिक्शा चालकों की रोजी रोटी पहले ही पूरी तरह से प्रभावित हो गई है। यही हाल रहा तो आगामी पर्यटन सीजन सुधारीकरण की भेंट चढ सकता है और इन पटरी व्यवसायियों, रिक्शा चालकों के साथ ही सभी व्यवसायियों की आर्थिकी प्रभावित हो जाएगी। प्रशासन को चाहिए कि बारिश रुकते ही सभी विभागों को कार्य में तेजी लाने को निर्देशित करें। जैसे भी संभव हो हर हाल में मॉल रोड को सीजन से पहले सुचारू होना बहुत जरूरी है अन्यथा पहले दो साल कोरोना की मार झेल चुकी मसूरी को अब मॉल रोड के सुधारीकरण का दंश भी झेलना पड़ेगा।

 

About Author

Please share us

Today’s Breaking