April 16, 2024

सीटू से सम्बद्ध उत्तराखंड भोजनमाता कामगार यूनियन का आंदोलन स्थगित, मांगे नहीं मानी तो फिर होगा आंदोलन

देहरादून। शिक्षा निदेशालय पर सीटू से संबद्ध उत्तराखंड भोजनमाता कामगार यूनियन का धरना आज भी जारी रहा। हालांकि संयुक्त निदेशक मध्याहन भोजन जे.पी. काला से वार्ता के बाद आंदोलन फिलहाल स्थगित कर दिया गया है।

शिक्षा निदेशालय में जारी धरने के बीच उत्तराखंड भोजनमाता कामगार यूनियन द्वारा संयुक्त निदेशक मध्याहन भोजन जे.पी. काला से भोजन माताओ से अतिरिक्त कार्य करवाने पर रोक लगाने, नियुक्ति पत्र देने व चुनावों में पोलिंग पार्टियों के लिए भोजन बनाने का भुगतान करने व स्कूलों में उनके उत्पीड़न पर रोक लगाने आदि मांगों पर लिखित निर्देश जारी करने की मांग की गई। जिस पर संयुक्त निदेशक जे.पी.काला ने कहा कि पूर्व में सभी दिशा निर्देश दिए जा चुके है, किंतु भोजनमाताओ की मांग पर ये दिशा निर्देश पुनः जारी कर दिए जाएंगे।

इस अवसर पर सीटू के जिला महामंत्री लेखराज ने कहा कि आज यूनियन द्वारा आंदोलन को स्थगित किया जा रहा हैं और आने वाले समय में यदि सरकार हमारी मांगे नहीं मानती है, तो आंदोलन फिर से शुरू कर दिया जाएगा। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि बीते रोज मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से मांगों के संदर्भ में वार्ता हो चुकी है। जिस पर मुख्यमंत्री का रुख सकारात्मक रहा। वहीं उन्होंने वार्ता के पश्चात संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है। यूनियन द्वारा जो मांगे मुख्यमंत्री के समक्ष रखी गई उसमे मुख्यतः भोजन माताओ को निकालने का जो आदेश है उसको वापस लेने, मानदेय में वृद्धि करना, सभी भोजन माता को सामाजिक सुरक्षा देना, ग्रेजुएट का लाभ देना इत्यादि मांगे हैं। मुख्यमंत्री से हुई सकारात्मक वार्ता पर सभी ने हर्ष व्यक्त किया और आंदोलन स्थगित करने की घोषणा की। वहीं कहा कि यदि मांगे पूरी नहीं होती है तो आने वाले समय में जबरदस्त आंदोलन किया जाएगा।

इस अवसर पर यूनियन की महामंत्री मोनिका ने कहा कि वह अनुशासित तरीके से अपने आंदोलन को चला रहे थे और जरूरत पड़ी तो हम आंदोलन को तेज करेंगे और आने वाले लोकसभा के चुनाव में इसका खामियाजा भारतीय जनता पार्टी को भुगतना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि भोजन माताएं 3000 रु में का कार्य करती है जो की बहुत कम है। इसलिए उनसे अन्य कार्य न करवाया जाए। भोजन माताओ को न निकाला जाए और जो निकलने के लिए जो शासनादेश जारी किया गया है उसे वापस लिया जाए।

इस अवसर पर सीटू के जिला सचिव मामचंद सहित रोशनी, कमल गुरुंग , रजनी रावत ,इंदु रावत , प्रेमा , मीना नेगी , सुनीता देवी , प्रमिला भंडारी , शांति देवी , बबली देवी , अनिता ,पूनम देवी, निशा ,सुचिता , बसंती , संगीत आदि बड़ी संख्या में भोजन माताएं उपस्थित थी।

About Author

Please share us

Today’s Breaking