June 16, 2024

राम मंदिर आंदोलन में मसूरीवासी भी रहे शामिल, राम लला की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर कार सेवकों मेंं है उत्साह

मसूरी। अयोध्या में भगवान श्री राम का मंदिर बनने में मसूरी के कार सेवकों का भी योगदान रहा है। जब राम मंदिर आंदोलन शुरू हुआ था तो मसूरी के लोगों ने भी बड़ी संख्या में आंदोलन में भाग लिया व जेल गये थे। अब राम मंदिर बन जाने पर आंदोलन में शामिल हुए कारसेवकों में बड़ा उत्साह है और इसके लिए वह अपने को सौभाग्यशाली मानते है। 

राम मंदिर आंदोलन में जेल गये हरीश अग्रवाल ने बताया कि मुलायम सिंह की तब प्रदेश में सरकार थी व उत्तराखंड राज्य नहीं बना था। तब उन्होंने राम मंदिर निर्माण आंदोलन में प्रतिभाग किया व जेल गये। उन्होंने बताया कि उन्हें मसूरी से पुलिस ने पकड़ा व देहरादून पुलिस लाइन में ले गये व वहां से डोईवाला एक वाहन में ले गये तथा वहां से नई टिहरी जेल में डाल दिया। उन्होंने कहा कि उस समय जितना जोश था उससे अधिक जोश व उत्साह आज हो रहा है कि भगवान राम को उनके जन्म स्थली में प्राण प्रतिष्ठित किया गया। उन्होंने कहा कि उस समय उन्हें उम्मीद नहीं थी कि राम मंदिर बन पायेगा लेकिन हमारे सामने ही अब राम मंदिर बन गया है व भगवान उसमें विराजमान हो गये है। उन्होंने यह भी बताया कि उस समय टिहरी जेल नई बनी थी व सबसे पहले राम भक्तों ने ही जेल जाकर इस जेल का उदघाटन किया था क्योंकि जेल बनने के बाद पहले कैदी के रूप में राम सेवक ही थे।

वहीं राम आंदोलन में भागीदारी करने वाले महेंद्र कुमार ने बताया कि उस समय बड़ा उत्साह था। तब ऐसा लग रहा था कि राम मंदिर बन जायेगा लेकिन नहीं बना। तब आंदोलन चरम पर था मसूरी में भी भव्य राम ज्योति लेकर प्रदर्शन किया गया व तब पुलिस ने राम सेवकों को ढूढना शुरू किया। कई भूमिगत हो गये थे लेकिन वह अपनी दुकान में ही बैठे थे। अचानक एक पुलिस वाला आया व कहा कि थाने में मीटिंग है आपको वहां जाना है वह उनके साथ गये व जब काफी देर बैठे हो गये तो उन्होंने पूछा कि मिटिंग कब शुरू होगी तो पुलिस ने कहा कि आप को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने उन्हे जीप में बिठाया व देहरादून ले गये, जबकि मसूरी में आंदोलन शांतिपूर्ण ढंग से चला था। बात करते करते वह भावुक होते हुए बोले कि आज खुशी का पल है, हमारे सामने राम मंदिर बन गया है। 

वहीं राम आंदोलनकारी अनिल गोयल टानू ने कहा कि जब अयोध्या में बाबरी मस्जिद तोड़ने के लिए सभी आंदोलनकारी जा रहे थे, तो उन्हें अयोध्या कूच के दौरान रास्ते में रोका गया व अशोक सिंघल जी आंदोलन की अगुवाई कर रहे थे। वहां से लौटने के बाद पुलिस ढूढती रही व वे कई दिनों तक भूमिगत रहे व पुलिस की प्रताड़ना सही। लेकिन आज मंदिर बन गया है तो बहुत खुशी हो रही है। इसके लिए हम खुद को सौभाग्यशाली मानते है। 

मंत्री गणेश जोशी ने कार सेवकों को सम्मानित किया

गांधी चौक स्थित लक्ष्मी नारायण मंदिर में आयोजित एक कार्यक्रम में प्रदेश के कबीना मंत्री व मसूरी विधायक गणेश जोशी ने राम मंदिर आंदोलन के कार सेवकों को श्री राम मंदिर स्मृति चिन्ह, माल्यार्पण व शॉल भेंट कर सम्मानित किया।

सम्मानित होने वालों में अशोक अग्रवाल, राधेश्याम तायल, देवेंद्र मित्तल, रमेश, महेंद्र कुमार, कुवंर सिंह महर, जुगमिदंर दास, डा. हरि मोहन गोयल, त्रिभुवन मित्तल, नंदा, रतन लाल कर्णवाल, खेमचंद गोयल, हरीशचंद्र अग्रवाल, कलम सिंह रावत, अनिल गोयल, टीकम सिंह थलवाल, अनिल गुप्ता आदि शामिल थे।

इस मौके पर कार सेवकों ने अपने अनुभव सुनाये व कहा कि उस समय शासन प्रशासन ने उनका व परिवारों का उत्पीड़न किया व जेल में रखा।

इस मौके पर मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि प्रभु राम का मंदिर बनने का मार्ग प्रधानमंत्री का विशेष सहयोग व कार सेवकों को बलिदान, तपस्या है व कई महीनों तक जेल में भूखे प्यासे रहे। इसलिए उन परिवारों व कार सेवकों को सम्मानित किया ताकि उन्हें गौरव का अनुभव हो। अब 22 जनवरी को भगवान राम टैंट से मंदिर में प्रतिष्ठित हो जायेगे। उन्होंने आहवान किया कि राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा का लाइव कार्यक्रम देखें। और पूरे देश में खुशी का माहौल है हिंदू हो या मुस्लिम या अन्य धर्म का सभी भगवान राम के मंदिर के उत्सव में प्रतिभाग कर रहे हैं। दो फरवरी को प्रदेश के मुख्यमंत्री पूरे मंत्रीमंडल को लेकर जा रहे हैं। इस मौके पर पूर्व मंडल अध्यक्ष मोहन पेटवाल ने भी कार्यक्रम को संबोंधित किया। 

कार सेवकों की याद में जलाए 51सौ दिए 

मंत्री गणेश जोशी ने भाजपा मसूरी मंडल की ओर से शहीद स्थल पर कार सेवकों को नमन करते हुए 51सौ दिए जलाये। पहला दिया कबीना मंत्री गणेश जोशी ने जलाया। इसके बाद शहीद स्थल पर मौजूद भाजपा कार्यकर्ताओं, राम भक्तों व पर्यटकों ने भी कार सेवकों की याद में दिए जलाये।

लंढौर बाजार दीन दयाल पार्क में व्यापारियों ने लगाई एलईडी

लंढौर बाजार के पं. दीन दयाल उपाध्याय पार्क में लंढौर बाजार के व्यापारियों ने एलईडी लगायी जिसमें राम भजन का प्रसारण किया जा रहा है जो 22 जनवरी तक 11 बजे प्रातः तक चलेगा। जानकारी देते हुए शानू वर्मा ने बताया कि एलईडी बाजार के व्यापारियों के सहयोग से लगाई गई है। 

About Author

Please share us