May 19, 2024

एमपीजी कालेज के छात्र संघ चुनाव में अध्यक्ष पद पर एबीवीपी व महासचिव पद पर जौनपुर छात्र संगठन ने की जीत हासिल

मसूरी। एमपीजी कालेज छात्र संघ चुनाव में अध्यक्ष पद पर एबीवीपी के मोहन व महासचिव पद पर जौनपुर छात्र संगठन के अनिल ने विजय हासिल की। इससे पूर्व मतदान के दौरान छात्रों के दो गुटों में झड़प हो गई, जिस पर पुलिस को तीन बार हल्का बल प्रयोग करना पड़ा।

छात्र संघ चुनाव के लिए सुबह 9 बजे से मतदान शुरू हुआ जो कि दोपहर डेढ़ बजे तक चला। इसके बाद मतों की गिनती शुरू की गई। चुनाव में महासचिव पद को छोड़कर मुख्य मुकाबला एनएसयूआई व एबीवीपी के बीच हुआ। महासचिव पद पर  एनएसयूआई व एबीवीपी ने अपना प्रत्याशी नहीं उतारा था। महासचिव पद पर मुख्य मुकाबला मसूरी छात्र संगठन व जौनपुर छात्र संगठन के बीच हुआ है। इन दोनो ग्रुपों के बीच काफी हंगामा व हाथापाई भी हुई। जिस पर पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर मामला शांत किया। पुलिस को तीन बार हल्का बल प्रयोग करना पड़ा व लाठियां फटकारी। हालांकि देहरादन में राष्ट्रपति के दौरे को लेकर पुलिस बल की कमी रही लेकिन उसके बाद भी मोर्चे पर डटी पुलिस ने मामले को संभाले रखा। इसके लिए पुलिस को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। 

अध्यक्ष पद पर एबीवीपी व महासचिव पद पर जौनपुर छात्र संगठन ने किया कब्जा

एमपीजी कालेज छात्रसंघ चुनाव में अध्यक्ष पद पर एबीवीपी के मोहन शाही ने  एनएसयूआई के अक्षत रावत को 64 मतों से हरा दिया। मोहन को 313 व अक्षत रावत को 249 मत मिले। वहीं महासचिव पद पर जौनपुर छात्र संगठन के अनिल ने मसूरी छात्र संगठन के नितिन सिंह को 165 मतों से हराकर बड़ी जीत दर्ज की। अनिल को 347 व नितिन को 182 मत मिले। वहीं अन्य प्रत्याशी अनिल सिंह को 21 व नितिन रावत को 19 मतों पर संतोष करना पड़ा।  उपाध्यक्ष पद पर एबीवीपी के रीना रावत ने एनएसयूआई के बिंदया को 24 मतों से हराया। रीना को 292 व बिंदिया को 268 मत पडे। सह सचिव पद पर एबीवीपी के हिमांशु उनियाल ने एनएसयूआई के अभय पंत को 29 मतों से हराया। हिमांशु को 296 व अभय पंत को 267 मत मिले व कोषाध्यक्ष पद पर एबीवीपी की रिंकी शाह ने एनएसयूआई की आंचल को 46 मतों से बाजी मारी रिंकी शाह को 303 व आंचल को 257 मत मिले। जबकि विवि प्रतिनिधि पद पर एनएसयूआई के अनुज ने एबीवीपी की शीला को दो मतों से बाजी मारी। अनुज को 280 व शीला को 278 मत मिले।          

About Author

Please share us

Today’s Breaking