June 16, 2024

मसूरी कांग्रेस अध्यक्ष ने लगाये मालरोड के सौदर्यीकरण के नाम पर करोड़ो रूपये का घोटाला होने के आरोप

मसूरी। शहर कांग्रेस अध्यक्ष अमित गुप्ता ने प्रेस वार्ता कर एक बार फिर प्रदेश सरकार व कबीना मंत्री गणेश जोशी पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने मालरोड के सौदर्यीकरण के नाम पर करोड़ो रूपये का घोटाला होने के आरोप लगाये है। इसके साथ ही उन्होंने सीवर योजना, गलोगी भूस्खलन क्षेत्र, यमुना पेयजल योजना को लेकर भी सवाल खड़े किए हैं।

मसूरी कांग्रेस अध्यक्ष अमित गुप्ता ने पत्रकार वार्ता कर प्रदेश सरकार व कबीना मंत्री गणेश जोशी पर मालरोड के सौदर्यीकरण के नाम पर करोड़ो रूपये का घोटाला किये जाने का आरोप लगाया व कहा कि अभी तक साठ प्रतिशत कार्य भी पूरा नहीं किया गया, जबकि इस कार्य को तीन माह में पूरा करने का समय दिया गया था। वहीँ लोक निर्माण विभाग को जून तक की डेड लाइन दी गयी थी। उन्होंने कहा कि अभी तो कार्य पूरा भी नही हुआ और मॉल रोड पर की जा रही काब्लिंग उखड़ने लग गई है। साफ़ है कि पूरा कार्य गुणवत्ता विहीन हो रहा है। उन्होंने कहा कि खुद सीएस, जिलाधिकारी इस कार्य का निरिक्षण कर चुके हैं, लेकिन मसूरी विधायक व मंत्री गणेश जोशी को इस कार्य के निरिक्षण के लिए अभी तक भी समय नहीं है। वे देहरादून में ही विभागों के अधिकारीयों को बुला कर समीक्षा कर रहे हैं। उन्होंनेे कहा कि मेरे द्वारा  विधायक से 12 सवाल पूछे थे लेकिन आज तक एक भी सवाल का जवाब नहीं दिया। वहीं उन्होंने कहा कि यमुना मसूरी पेयजल योजना को लेकर श्रेय लेने की होड़ में भाजपाईयों द्वारा खूब आतिश बाजी की गयी व मिठाइयां बांटी गयी, लेकिन मसूरीवासी अभी तक इस योजना के पानी के लिए तरस रहे हैं। उन्होंने कहा कि गलोगी क्षेत्र में पिछले तीन साल से भूस्खलन हो रहा हैं और लगातार वहां पर जानमाल का भय बना हुआ है, लेकिन अभी तक उसका ट्रीटमेंट नहीं किया गया।

अमित गुप्ता ने कहा कि एक तरफ से मालरोड बन रही है और दूसरी तरफ से उसे कभी सीवर के लिए, तो कभी पानी के लिए, तो कभी नालों के लिए खोदी जा रहा है। इस तरह मालरोड की दुर्दशा के कारण सीजन में मसूरी नागरिकों को भारी नुकसान हुआ है। उन्होंने यह भी कहा कि जो भी योजना बनती है, उसकी डीपीआर सार्वजनिक की जाती है। जबकि मसूरी के लिए बनी करोड़ो की योजनाओं में किसी भी योजना की डीपीआर सार्वजनिक नहीं की गई। उन्होंने कहा कि अब शिफन कोर्ट के बाद लाइब्रेरी बस स्टैण्ड के छह दुकानदारों को भी उजाड़ा जा रहा है। उन्होंने चेताया कि अगर सभी दुकानदारों को विस्थापित किये बगैर उजाड़ा गया, तो कांग्रेस उनके साथ खड़े होकर जोरदार आंदोलन करेगी।

कांग्रेस शहर अध्यक्ष ने कहा कि 2009 में सीवर लाइन योजना आयी थी, जो आज भी जस की तस है। इन दिनों पूरे मालरोड पर सीवर बहता नजर आ रहा है। पेयजल निगम बताये कि उनके एसटीपी प्लांट कहां बने है। सीवर लाइन से उससे जोड़ा गया कि नहीं। हकीकत में इस योजना का लाभ भी किसी को नहीं मिल पा रहा है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने मालरोड की दुदर्शा पर एक दिन का धरना व उपवास किया व चेतावनी दी थी कि यदि मालरोड का कार्य 15 दिनों में पूरा नहीं किया गया, तो वह दून तक मार्च करेंगे। लेकिन सम्बंधित विभाग उसके बाद भी नहीं चेते। उन्होंने कहा कि अगर आगामी 15 दिनों में मालरोड का कार्य पूरा नहीं किया जाता तो कांग्रेस आंदोलन करने को बाध्य होगी। इस मौके पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मेघ सिंह कंडारी मेघ सिंह कंडारी ने भी योजनाओं पर बरती जा रही लापरवाही पर आक्रोश व्यक्त किया।

पत्रकार वार्ता में राजीव अग्रवाल, महिमानंद, रफीक अहमद, नागेद्र उनियाल, मोहन नेगी, आदि मौजूद रहे।

About Author

Please share us