May 19, 2024

कैबिनेट मंत्री चंदन राम दास के निधन से प्रदेश में शोक की लहर, 26 से 28 अप्रैल तक तीन दिवसीय राजकीय शोक घोषित

परिवहन मंत्री के आकस्मिक निधन पर डा. धन सिंह रावत ने जताया दुःख, कहा- जन जन के नेता थे चंदन राम दास 

देहरादून। धामी कैबिनेट ने परिवहन, समाज कल्याण और अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री चन्दन राम दास के आकस्मिक निधन हो गया है। उनके निधन से प्रदेश में शोक की लहर दौड़ गई है। मंत्री चन्दन के निधन पर राज्य में 26 से 28 अप्रैल तक तीन दिवसीय राजकीय शोक घोषित कर दिया गया है। उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, बीजेपी और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्षों सहित पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत और नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य आदि नेताओं ने गहरा शोक व्यक्त किया है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उनके निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने कहा मंत्रिमंडल में हमारे वरिष्ठ साथी चंदन राम दास का निधन पूरे प्रदेश के लिए अपूरणीय क्षति है। उन्होंने समाज में गरीबों, शोषितों, पिछड़ों के लिए और आम आदमी की भलाई के लिए संपूर्ण जीवन कार्य किया। वे एक संघर्षशील नेता थे। उन्होंने हमेशा समाज के अंतिम छोर में खड़े लोगों की आवाज को उठाने और समाधान की ओर ले जाने का कार्य किया। उनका सरल, सहज एवं मृदुभाषी व्यक्तित्व था।

मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा को सभी प्रदेशवासियों की ओर से श्रद्धांजलि देते हुए उनके परिजनों एवं शुभचिंतकों को दुःख की इस घड़ी में धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से कामना की है।

वहीँ कैबिनेट मंत्री चंदन राम दास के अकस्मिक निधन पर स्वास्थ्य मंत्री डा. धन सिंह रावत ने भी गहरा शोक प्रकट करते हुये इसे अपूरणीय क्षति बताया। उन्होंने कहा कि चंदन राम दास जी जन-जन के नेता थे, प्रदेश ने आज एक समर्पित जननेता को खो दिया है। सौम्य व मधुर व्यवहार के धनी चंदन राम दास जी की कमी हमेशा खलती रहेगी। डा. रावत ने उनके निधन को अत्यंत दुःखद एवं हृदय विदारक बताते हुये, ईश्वर से दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान देने एवं दुःख की इस घड़ी में शोक संतप्त परिजनों एवं समर्थकों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त की। डा. रावत ने बताया कि चंदन रामदास जी विगत वर्षों से बीमार चल रहे थे। राज्य सरकार ने उन्हें हरसंभव बेहतर उपचार उपलब्ध कराया लेकिन आज अचानक स्वास्थ्य खराब होने से उनका अकस्मिक निधन हो गया।

यह भी पढ़ें: Breaking News: मॉल रोड सुधारीकरण कार्य में लगा डंपर सड़क धंसने से मुख्य मार्ग पर जा गिरा, चालक की मौत

चंदन राम दास ने छात्र नेता के रूप मे शुरू किया था राजनीतिक सफर

चंदनराम दास ने अपना राजनीतिक सफर अस्सी के दशक में बतौर छात्र नेता से शुरू किया, इसके उपरांत वह 1997 में नगर पालिका बागेश्वर में निर्दलीय पालिका अध्यक्ष बने। वह लगातार चार बार विधायक चुने गये। अपने सौम्य व्यवहार के चलते वह आम जनता के चहेते नेता थे।

About Author

Please share us

Today’s Breaking