May 19, 2024

केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के आह्वान पर सीटू ने पीएम मोदी का पुतला फूंक कर मनाया विरोध दिवस

देहरादून। सेंटर ऑफ इंडियन ट्रेड यूनियन्स (CITU) ने पुलिस की गोलाबारी में मारे गए युवा किसान की मौत पर शोक व्यक्त किया और किसान आंदोलन के दमन के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का पुतला फूंक कर विरोध दिवस मनाया ।

पूर्व नियोजित कार्यक्रम के अनुसार सेंटर ऑफ इंडियन ट्रेड यूनियन्स (CITU) कार्यकर्ता सीटू कार्यालय में एकत्रित हुये और वहां से नारे लगाते हुए जलूस के रूप में राजपुर रोड गांधी पार्क से होते हुए क्वालटी चौक पहुंचे, जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया गया।

इस अवसर पर सीटू के प्रांतीय अध्यक्ष राजेंद्र सिंह नेगी ने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा के आंदोलन का तानाशाही मोदी सरकार द्वारा दमन किया जाना पूर्णतः अन्यायपूर्ण है। सरकार को किसानों के आंदोलन को कुचलने के बजाय उनसे वार्ता करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार एम.एस.पी. पर कानून बनाने के बजाए किसान आंदोलन का दमन कर रही है। जिसका नतीजा यह हुआ कि पुलिस कार्यवाही में एक नौजवान किसान की मृत्यु हो गईं। इस घटना के बाद समूचे किसान और मजदूर वर्ग में व्यापक रोष व्याप्त है। 2024 के चुनाव में मजदूर किसान ही मोदी सरकार को सत्ता से बेदखल कर देंगे ।

सीटू के प्रांतीय सचिव लेखराज ने कहा कि वर्तमान मोदी सरकार द्वारा आंदोलित किसानो पर बर्बर हमला किया जा रहा है। इससे ऐसा लग रहा है कि जैसे वे किसान न हो कर दुश्मन देश की सेना हो और उन पर गोलीबारी की जा रही है। उन्होंने कहा कि सीटू पूरे देश मे इसके खिलाफ आज देशव्यापी विरोध दिवस व काला दिवस मना रही है। इसी के तहत आज सीटू ने मोदी का पुतला फूंक कर विरोध दिवस मनाया गया ।

इस अवसर पर अखिल भारतीय किसान सभा के प्रांतीय अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह सजवाण ने केंद्र की मोदी सरकार को किसानों की हत्यारी सरकार बताया। उन्होंने कहा कि सरकार कितना भी तानाशाही रवैया अपना ले लेकिन किसान अपनी मांगों को बिना मनवाए नही मानेंगे।

इस अवसर पर अनन्त आकाश, राजेन्द्र पुरोहित, कमरुद्दीन, आंदोलनकारी परिषद संरक्षक नवनीत गुसाई, भीम आर्मी के अमजद, रविन्द्र नौढियाल, राम सिंह भंडारी, अर्जुन रावत, चित्रकला, पूनम सिंह, एस.एफ.आई के प्रांतीय सचिव हिमांशू चौहान, शैलेन्द्र परमार, अनील गोस्वामी, अली अहमद, सुनीता रावत, लक्ष्मी पंत, मनीषा, अर्चना, रीता देवी आदि बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे।           

About Author

Please share us

Today’s Breaking