March 4, 2024

मसूरी मॉल रोड 4.30 बजे के बाद वाहनों के लिए हुई जीरो जोन घोषित, आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी वाहन रहेंगे प्रतिबंधित

मसूरी। मालरोड पर लगातार बढ़ते वाहनों के भार को कम करने को लेकर नगर पालिका प्रशासक एसडीएम डा. दीपक सैनी ने अपराहन चाढे चार बजे से रात्रि साढे दस बजे तक सभी दुपहिया व चार पहिया वाहनों को चलाने पर प्रतिबंध लगा दिया है, ताकि पर्यटकों व स्थानीय नागरिकों को परेशानी का सामना न करना पडे़। यातायात व्यवस्था को बनाए रखने को लेकर बैरियर पर पुलिस व पालिका प्रशासन की तैनाती कर दी है।

नगर पालिका अधिशासी अधिकारी राजेश नैथानी ने पत्रकारों से बातचीत में बताया कि विगत दिनों एसडीएम ने होटल एसोसिएशन, व्यापार संघ सहित विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक में लोगों की शिकायत का संज्ञान लेते हुए मंगलवार से मालरोड पर अपराहन चाढे चार बजे से रात्रि साढे दस बजे तक सभी वाहनो को प्रतिबंधित करने का निर्देश दिया है। पूरे मालरोड को जीरो जोन घोषित किया गया है। केवल एंबुलेंस, पुलिस व आवश्यक सेवाओं के वाहन ही चल पायेंगे। वहीं बैठक में यह भी निर्णय लिया गया था कि दिन के समय मालरोड को एक मार्गीय यातायात व्यवस्था के तहत संचालित किया जायेगा जिसमें अंबेडकर चौक से वाहन कैमल बैक रोड से जायेगें व मालरोड से वापस आयेंगे। उन्होंने यह भी बताया कि कैमल बैक रोड किनारे वाहनों को खड़ा नहीं होने दिया जायेगा व जो वाहन खडे है उन्हें हटाया जायेगा, ताकि एक मार्गीय यातायात व्यवस्था सुचारू करने में परेशानी न हो। उन्होंने यह भी बताया कि मालरोड पर टैक्सी व स्कूटी टैक्सी नहीं चलने दी जायेगी व जो चलेगी उनका चालान किया जायेगा। यह व्यवस्था आगे लगातार जारी रहेगी। इसके साथ ही सामान ढोेने वाले वाहन दिन में नहीं चलेगे। वह सुबह दस बजे तक सामान वितरित कर बैरियर से बाहर हो जायेंगे व रात्रि को साढे दस बजे के बाद मालरोड पर सामान वितरित करने आ सकेंगे।

पुलिस व पालिका ने शुरू की कार्यवाही

उन्होंने कहा कि एसडीएम के निर्देश का पालन करने के लिए पुलिस व नगर पालिका ने कार्रवाई शुरू कर दी है। साथ ही पुलिस की ओर से जनता को आगाह कराने के लिए प्रचार किया जा रहा है। मालरोड या कैमल बैक पर जो वाहन खड़े होंगे उन्हें पुलिस की रिकवरी वाहन से हटाया जायेगा, साथ ही चालान भी किया जायेगा।

मालरोड पर वाहनों को प्रतिबंध किए जाने के बाद लोगों का विरोध भी शुरू हो गया है। लोगों ने विरोधस्वरूप एसडीएम के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। इस दौरान बैरियर पर दुपहिया वाहनों व चार पहिया वाहनों की कतारें लग गई।

अचानक मॉल रोड बंद करने से लोगों को हो रही परेशानी

बैरियर पर मौजूद आम आदमी पार्टी के जिला प्रवक्ता प्रकाश राणा ने कहा कि अचानक मालरोड बंद कर दी गई है, जिससे लोगों को अपने घरों में जाने में परेशानी हो रही है। उन्होंने कहा कि नगर पालिका के नियमों के मुताबिक शीतकाल में एक दिसंबर से 28 फरवरी तक मालरोड के बैरियर पूरी तरह खोल दिए जाते हैं, लेकिन एसडीएम डा. दीपक सैनी के तुगलकी फरमान के बाद मालरोड बंद कर दी गई है, जो गलत है। 

इस संबंध में नगर पालिका के कार्यालय अधीक्षक महावीर राणा ने कहा कि वह नगर पालिका प्रशासक एसडीएम के आदेशों का पालन कर रहे हैं, लेकिन पालिका नियमों में पूर्व में शीतकाल में बैरियर पूरी तरह एक दिसंबर से 28 फरवरी तक खोल दिए जाते थे, लेकिन पालिका एसडीएम के निर्देशों की अवहेलना नही कर सकती है।

सैलानियों व स्थानीय नागरिकों ने की पालिका प्रशासक के निर्णय की सराहना

वहीं मॉल रोड प्रवेश पर वाहनों पर प्रतिबंध लगने से पूरी मालरोड साफ नजर आई और कहीं भी वाहन नजर नहीं आये, जिससे मॉल रोड पर टहलने वाले सैलानियों व स्थानीय नागरिकों ने राहत की सांस ली व प्रशासक के निर्देश की सराहना की।

About Author

Please share us