April 16, 2024

“अकिंता हम शर्मिदा है, तुम्हारे कातिल जिंदा है” नारों के साथ कांग्रेस ने अंकिता को दी श्रद्धांजलि

मसूरी। अंकिता भंडारी हत्याकांड के एक वर्ष होने पर शहर कांगे्रस मसूरी व उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारी मंच ने संयुक्त रूप से शहीद स्थल पर श्रद्धांजलि सभा की व अंकिता के चित्र पर पुष्प अर्पित कर व मोम बत्तियां जलाने के साथ ही मौन रखकर श्रद्धांजलि दी।

शहीद स्थल पर आयोजित श्रद्धांजलि सभा में शहर कांग्रेस के अध्यक्ष अमित गुप्ता ने कहा कि बड़े ही दुर्भाग्य की बात है कि अंकिता भंडारी की हत्या हुए एक वर्ष बीत गया, लेकिन भाजपा सरकार आज तक उनके हत्यारों को सजा नही दिला पाई। यह प्रदेश सरकार की नाकामी के साथ ही कानून व्यवस्था पर सवाल पैदा कर रहा है। उन्होंनेे कहा कि पहाड़ की बेटी अंकिता के कातिलो के नाम का आज तक खुलासा नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड की जनता जानना चाहती है कि आखिर अंकिता को कब न्याय मिलेगा व उस वीआईपी का नाम कब सामने आयेगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस वर्ष भर से अंकिता हत्याकांड का खुलासा करने को लेकर प्रदेश सरकार को घेरती रही है, लेकिन अभी तक उसे न्याय नहीं मिल पाया जो शर्म की बात है।

इस मौके पर उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारी मंच के अध्यक्ष देवी गोेदियाल ने अंकिता को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि अंकिता बहादुर लडकी थी जिसने उन ताकतों का विरोध किया जो प्रदेश में अपराध को बढावा दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब तक सरकार अंकिता को न्याय नहीं देती विरोध किया जाता रहेगा।

इस मौके पर मौजूद लोगो ने अकिंता हम शर्मिदा है तुम्हारे कातिल जिंदा है, अकिता को न्याय दो, अंकिता के हत्यारों को गिरफतार करो आदि के नारे लगाते रहे व अंत में एक मिनट का मौन रख कर श्रद्धाजलि दी गई।

इस मौके पर दीपेंद्र भंडारी, सुनील पंवार, अरविंद सोनकर, भरोसी रावत, मेघ सिंह कंडारी, महेश चंद, कामिल अली, महिमानंद, वसीम खान, चांद खान, प्रिंस, श्रीपति कंडारी, सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।  

About Author

Please share us

Today’s Breaking