April 16, 2024

मसूरी: बेरोजगार आंदोलन में जेल जाने वाले नितिन व उनके साथियों का विभिन्न संगठनों ने किया स्वागत

मसूरी। बेरोजगार आंदोलन में जेल गये टीम संघर्ष के नितिन दत्त एवं मोहन कैंतुरा के रिहा होने व शहीद स्थल पहुंचने पर व्यापार संघ, मजदूर संघ, बेरोजगार संगठन सहित अन्य संगठनों के प्रतिनिधियों ने माला पहना कर स्वागत किया।

शहीद स्थल पहुंचने पर सबसे पहले टीम संघर्ष एवम बेरोजगार संघ के नेता के नितिन दत्त, मोहन कैंतुरा एवं सचिन गुहेर ने राज्य आंदोलन के शहीदों को पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर बेरोजगार आंदोलन में सक्रिय भूमिका निभाने व बेरोजगारों के लिए जेल जाने वाले नितिन दत्त, मोहन कैंतरा व सचिन गुहेर का स्वागत किया गया।

इस मौके पर व्यापार संघ अध्यक्ष रजत अग्रवाल ने कहा कि नितिन दत्त एवं मोहन कैंतुरा ने बेरोजगारों के आंदोलन में मसूरी का नेतृत्व किया व प्रदेश के बेरोजगारों के लिए जेल गये। उन्होंने कहा कि जब पेपर लीक व भर्ती घोटालेे को लेकर बेरोजगारों ने आंदोलन किया तो सरकार ने उन पर लाठियां बरसायी व उन्हें जेल में डाल दिया जिसमें दो युवा मसूरी के थे, जो छह दिन जेल में रहे व उनके जेल से छूटने के बाद मसूरी पहुंचने पर उनका स्वागत किया गया। उन्होने कहा कि उम्मीद है सरकार भर्ती घोटले व पेपर लीक मामले में शीघ्र सीबीआई जांच बिठायेगी।

इस मौके पर जेल से रिहा होकर लौटे नितिन दत्त ने कहा कि सरकार ने बेरोजगारों के आंदोलन में युवाओं पर लाठियां बरसाये। लेकिन जब सरकार के पास पूरा तत्रं है तो कैसे भर्ती व पेपर लीक घोटाले हुए। ये आंदोलन तभी थमेगा जब सीबीआई की जांच होगी। सरकार को शीघ्र सीबीआई जांच के आदेश देने चाहिए अन्यथा आगे भूख हड़ताल करेंगे। जिसको लेलर बाॅबी पंवार शीघ्र वार्ता करेंगे व आंदोलन को आगे बढाया जायेगा। इसमें सभी लोग सहयोग कर रहे हैं। बेरोजगारों को राज्य में रोजगार नहीं मिल रहा है। इसमें अभिभावकों को भी आगे आना होगा व अपने बच्चों के भविय की चिंता करनी होगी। यह सोचना पड़ेगा कि उनके बच्चे क्यो नहीं निकल पा रहे है। ऐसे लोग जिनका पता चले कि वह पैसे देकर लगा है तो उसका सामाजिक बहिकार करें।

इस मौके पर व्यापार संघ के महामंत्री जगजीत कुकरेजा, देवी गोदियाल, विजेंदर भंडारी, रामू, दीपक रावत, सागर, हिमांशु नेगी, राजेश थापली, नीरज सेमवाल, विक्रम आदि मौजूद रहे।

About Author

Please share us

Today’s Breaking